पेट गैस से हैं परेशान ? आजमाए पेट गैस के घरेलू नुस्खे

पेट गैस समस्या

पेट गैस ( Stomach gas ) कोई स्वतंत्र बीमारी नहीं है यह एक आम समस्या है जो पाचनतंत्र की कमजोरी के कारण उत्पन्न होती है
जब पेट गैस समस्या अधिक होने लगे तो यह बीमारी से भी कम नहीं लगती है ।

आखिर पेट गैस क्या है ?

जब हम भोजन करते हैं तो हमारी पाचन क्रिया के दौरान हमारे पेट मे कार्बनडाई ऑक्साइड , हाइड्रोजन और मीथेन गैस बनती है
यही गैस एसिडिटी का कारण होती है जिस कारण हमारा पेट फूल जाता है
जिसे हम पेट गैस के नाम से जानते हैं ।
अगर आयुर्वेद चिकित्सा पद्धति की माने तो यह त्रिदोष है जो –
वात , पित्त , कफ को शांत करके वायु समश्या को दूर किया जा सकता है ।

जठराग्नि में आई दुर्बलता के कारण भी वात , मल आदि रोग उत्पन्न हो जाते हैं जिस कारण हमारी पाचन क्रिया पर असर पड़ता है
और हमारी पाचन क्रिया सही तरह से काम नहीं करती है
परिणाम स्वरूप हम भोजन नहीं पचा पाते है जिस वजह से उदर में बनने वाली प्राण वायु और अपान वायु वहीं रुक जाती हैं
जिस कारण पेट गैस का कारण बनती है ।

पेट में गैस बनने के कुछ सामान्य लक्षण

सामान्य तौर पर अगर पेट फूला हुआ प्रतीत हो और पेट दर्द हो तो समझ लेना चाहिए
पेट में गैस बन गयी है और कुछ लक्षण इसके अलावा भी हैं जो एसिडिटी होने पर दिखते हैं –

  1. सिर दर्द करना
  2. शरीर में आलस्य रहना
  3. पेट में हल्के दर्द के साथ ऐंठन होना
  4. उल्टी आने के साथ साथ चुभन का आभास होना
  5. पेट फूल जाना
वायु-समस्या
वायु समस्या

पेट में गैस बनने के मुख्य कारण

आयुर्वेद की मानें तो त्रिदोष की वजह से पेट में गैस बनती है यह त्रिदोष –
वात , पित्त , कफ है। आयुर्वेद में वायु को पांच भागों में बांटा गया है
प्राण वायु , उदान वायु , व्यान वायु , अपान वायु एवं समान वायु
जिसमें उदर, समान और अपान वायु की पेट गैस बनाने में अहम भूमिका होती है
वैसे तो वायु बनने के कई कारण होते हैं लेकिन नीचे दी गई सूची में कुछ अहम कारण है
जिससे पेट गैस का सामना करना पड़ता है –

  • जंक फूड खाना
  • जरूरत से ज्यादा भोजन करना
  • भोजन चवा चवा कर न खाना
  • पेट में अम्ल बनना
  • शराव का अधिक सेवन करना
  • सुवह नास्ता न करने या अधिक समय तक भूख रहने से भी समस्या होती है
  • रात का वासी भोजन खाना
  • पेट में बैक्टिरिया बनना
  • किसी किसी को दूध पीने के कारण भी गैस समस्या हो जाती है
  • मानसिक तनाव में रहना
  • कभी व्यायाम या हार्ड वर्क न करना
  • उडद की दाल , राजमा , मोठ , छोले , बीन्स के अधिक सेबन से भी पेट गैस समस्या होती है।
  • अधिक कार्बोहाइड्रेट युक्त खाना खाने से भी पेट गैस की समस्या होती है

इसे भी पढ़ें – पेट दर्द क्यों होता है ? कहीं पेट दर्द बड़ी बीमारी का संकेत तो नहीं है ?

वायु बनने से कैसे रोका जाए

यह एक आम समस्या है जिससे काफी लोग जूझ रहे हैं अगर आप स्वस्थ हैं
और ऐसी समस्या से पहले बचना चाहते हैं या फिर यह आपको पेट गैस समस्या हाल ही में शुरू हुई है
तो आहार योजना एवं जीवनशैली में कुछ बदलाव करके बचा जा सकता है ।

आहार योजना से पेट गैस में राहत

यह समस्या उदर वायु एबं बात दोष की वजह से होती है
इसलिए हमें उचित आहार लेने की आवश्यकता है
जिसमें गोभी , प्याज , सेम का दो सप्ताह का ट्रैक रिकॉर्ड ले
और जाँचे कहीं इनकी वजह से कोई परेशानी तो नहीं हो रही है ।
चीनी रहित मिठास या सोर्बिटोल से बने पदार्थों को खाने बचना चाहिए ।
चाय एवं रेड वाइन से भी अधोवायु को रोका जा सकता है ।

जीवनशैली के बदलाब से पेट गैस में राहत

  • सुबह सुबह प्राणायाम और योगासन जरूर करें ।
  • वज्रासन , उष्ट्रासन , पवनमुक्तासन करें
  • सोडा युक्त जूस पीने से परहेज करें
  • रात का बचा हुआ खाना जंक फूड दूषित पानी पीने से बचें
  • जितना हो सके उतना अधिक पानी पीने की कोशिश करें

खाना खाने के तुरंत बाद अगर हम वज्रासन करें तो इससे गैस बनने से रोका जा सकता है
वज्रासन करने के लिए हमें दोनों घुटने मोड़कर बैठ जाना है
तथा दोनों हाथों को घुटनों के ऊपर रखकर 15 से 20 मिनट तक यह आसन करना है
यह आसन करने से हमारी पाचन क्रिया मजबूत होती है
अगर एक बार हमारी पाचन क्रिया मजबूत हो गई तो पेट में गैस बनना बंद हो जाएगी

पेट गैस रोकने के घरेलू उपाय

आमतौर पर पेट में गैस बनना एक आम लक्षणों में से एक लक्षण है
जिसका इलाज हमारी घर की रसोई में इस्तेमाल होने वाली चीजों से किया जा सकता है
और यह कारगर भी होता है चलिए जानते हैं रसोई में इस्तेमाल होने वाली किन चीजों से पेट गैस जैसी समस्या को दूर किया जा सकता है

सूखी अदरक और काली मिर्च से पेट गैस दूर करें

भोजन करने के 1 घंटे के उपरांत एक चम्मच सूखी अदरक एक चम्मच काली मिर्च
और एक चम्मच इलायची के दानों को आधी चम्मच पानी के साथ लेने से गैस में आराम मिलता है

आधा चम्मच अदरक का पाउडर बना लें अब उसमें एक चुटकी हींग डालें
और स्वाद के अनुसार सेंधा नमक सबको आधे कप गर्म पानी के साथ लेने से पेट गैस में राहत मिलती है

अजवाइन गैस की समस्या से किस तरह राहत दिलाती है

एक छोटे से चम्मच में अजवाइन लें और उसमें थोड़ा सा नमक मिला लें
अब इसे गर्म पानी के साथ लेने से पेट में हो रही ऐंठन में लाभ मिलता है
बच्चों में कम अजवाइन के साथ यह प्रयोग करें

गैस समस्या से राहत पाने के लिए हरड़ को लें उपयोग में

हरड़ भी वायु समस्या में काफी उपयोगी है हरड़ का चूर्ण बना लें
और उसमें थोड़ा सा शहद मिला लें अब इन दोनों को मिक्स करके
रोगी को देने से लाभ मिलता है

काला नमक खाने से वायु समस्या कैसे दूर होती है

काले नमक का सेवन भी हमें गैस समस्या से राहत दिलाता है
जीरा , अजवाइन , छोटी हरड़ और काला नमक इन सब को बराबर बराबर मात्रा में ले
अब इन सभी को एक साथ पीस लें अगर समस्या किसी बड़े में हैं
तो उसके लिए 4 से 6 ग्राम खाना खाने के बाद पानी से दें
अगर समस्या किसी बच्चे में हैं तो उसको कम मात्रा दे

गैस समस्या में अदरक की भी है फायदेमंद

अदरक को कई छोटे-छोटे टुकड़ों में काट लें और उसमें नमक मिलाकर हर आधे घंटे में रोगी को दें
जिससे उसको गैस समस्या में आराम मिलेगा यह तरीका काफी उपयोगी है

टमाटर से करेंगे समस्या का समाधान

टमाटर खाना खाते समय काला नमक डालकर सलाद में लेने से इस समस्या से राहत पा सकते हैं
इससे भी रोगी को अधिक लाभ मिलता है
लेकिन पथरी के रोगी को कच्चे टमाटर नहीं खाने चाहिए

काली मिर्च से होने वाला लाभ

अगर गैस समस्या के कारण आपके सिर में दर्द हो रहा है
तो आपको चाय में काली मिर्च डालकर पीना चाहिए
क्योंकि इससे रोगी को राहत मिलती है

अदरक और नींबू से करें गैस समस्या दूर

खाना खाने के बाद कुछ अदरक की स्लाइस बना लें और उनको नींबू के रस में मिला लें
अब उनको चूसने से रोगी को वायु रोग में राहत मिलती है

पेट गैस समस्या दूर करने के लिए आयुर्वेदिक उपाय

आयुर्वेदिक के इलाज की सबसे अच्छी बात है कि इससे किए गए इलाज से साइड इफेक्ट की संभावना न के बराबर है
और यह आसानी से घर की रसोई से किए जा सकते हैं

नींबू की शिकंजी लें उपयोग में

नींबू की शिकंजी को हम नियमित रूप से 2 से 3 माह तक उपयोग में लें तो
इससे आने वाली खट्टी डकार है वह मुंह का कड़वापन दूर होता है
और वायु रोगी को राहत मिलती है

लोंग से करें गैस का इलाज

लोंग को सुबह-शाम भोजन करने के उपरांत लेने से खट्टी डकार में आराम मिलता है
और गैस की समस्या में भी राहत मिलती है ।

सत्तू खाने से भी गैस समस्या हो सकती है दूर

रोगी को चने का सत्तू 15 से 20 दिन तक लगातार लेने से गैस समस्या में राहत मिलती है

गैस रोगी को डॉक्टर के पास जाना आवश्यक कब हो जाता है

आमतौर पर गैस समस्या एक आम बीमारी है
अगर यह समस्या लगातार बनी रहे और आराम न मिले तो
हमें डॉक्टर की सलाह लेना आवश्यक है ।

Leave a Comment

Your email address will not be published.